Breaking News

सीएम कमलनाथ ने अचानक बुलाई बैठक, मंत्रियों से कहा- विपक्ष के सामने कमजोर पड़ रहा है सत्ता पक्ष

   

मध्यप्रदेश के कई विधायक कमलनाथ से मंत्रियों की शिकायत कर चुके हैं।

सीएम कमलनाथ ने मंत्रियों से कहा कि विधानसभा में तैयारी के साथ आएं।

भोपाल. सीएम कमल नाथ ( Kamal Nath) ने शुक्रवार को अचानक अनौपचारिक कैबिनेट बैठक बुलाई। उन्होंने सभी मंत्रियों से कहा कि भाजपा को कई मौका नहीं देना चाहिए। हमें अपने साथियों को पूरी तज्ज्वों देना है। कमलनाथ ने मंत्रियों पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा- मंत्री विधानसभा में तैयारी से नहीं आते हैं।

 

 
विपक्ष के आगे सत्ता पक्ष कमजोर
सीएम कमल नाथ ने मंत्रियों से कहा कि विपक्ष की तैयारियों के आगे सत्ता पक्ष कमजोर हो रहा है। बैठक के दौरान मंत्रियों ने भाजपा के पूर्व विधायक सुरेन्द्र सिंह के बयान के मुद्दे पर विपक्ष को घेरने की तैयारी भी बनाई। जिसका असर सदन में दिखाई दिया और मंत्री गर्भगृह में उतर कर विपक्ष को घेरने लगे।
 
समर्थन देने वालों की नाराजगी करो दूर
इस बैठक में सीएम कमलनाथ ने मंत्रियों से कहा कि बसपा, सपा और निर्दलीय विधायकों की नाराजगी दूर की जाए। बताया जा रहा है कि शुक्रवार को बैठक से पहले पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने सीएम कमलनाथ से मुलाकात की थी। इस दौरान सत्ता और संगठन को लेकर चर्चा की गई थी।
 

 
विधायकों की बात पूरी तरह से सुनी जाए
कमलनाथ ने बैठक में कहा कि कुछ विधायकों की शिकायत है कि मंत्री उनकी बातों को नहीं सुनते हैं। सीएम ने कहा- अपने विधायकों की समस्याओं को पूरी तरह से सुना जाए और उनके क्षेत्र की समस्याओं को जल्द से जल्द हल किया जाए। उन्होंने मंत्रियों से अपने क्षेत्र और प्रभार वाले क्षेत्र में सामंजस्य बैठाने को कहा। बता दें कि हाल ही में कई विधायकों ने मंत्रियों की शिकायत सीएम कमलनाथ से की थी। विधायकों की शिकायत है कि मंत्री उनके क्षेत्र के विकाश में कोई दिलचस्पी नहीं दिखा रहे हैं। जिसके बाद सीएम कमलनाथ हर कैबिनेट मीटिंग में मंत्रियों से विधायकों की बात सुनने के निर्देश दे रहे हैं।
 
विधायक दल की बैठक में नहीं पहुंचे थे दो विधायक
हाल ही में सीएम कमलनाथ ने विधायक दल की बैठक बुलाई थी जिसमें बसपा के एक और सपा के एक विधायक नहीं पहुंचे थे। उन्होंने कहा था कि मंत्री उनके क्षेत्र की समस्याओं का समाधान नहीं कर रहे हैं।

Check Also

MP में कोरोना की दूसरी लहर का खतरा:इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, रतलाम और विदिशा में कल से रात 10 से सुबह 6 बजे का नाइट कर्फ्यू

🔊 Listen to this प्रदेश में 8वीं तक के सकूल भी 31 दिसंबर तक रहेंगे …