तीसरी बार हड़ताल का ऐलान करते ही सीएम ने पटवारियों को मिलने बुलाया

पिछले 2 साल में मप्र के पटवारी 2 बार हड़ताल कर चुके परंतु उनकी समस्याओं का समाधान नहीं हुआ। चुनाव से पहले समाधान की प्रत्याशा में पटवारियों ने तीसरी बार हड़ताल का ऐलान किया लेकिन इस बार इससे पहले कि हड़ताल शुरू हो पाती, सीएम शिवराज सिंह ने पटवारियों को न्यौता भेज दिया। मुलाकात का दिन 4 जून तय किया गया है। उम्मीद जताई जा रही है कि सीएम एक ही बार में सभी मांगों का निराकरण कर देंगे। 

राजस्व सचिव एम सेलवेंद्रम ने पटवारी संघ के अध्यक्ष को इस आशय की सूचना दी गई है कि 4 जून को पटवारी संघ के पदाधिकारी भोपाल में मौजूद रहें। मुख्यमंत्री अपने निवास पर सुबह 9 बजे से संघ पदाधिकारियों से चर्चा करेंगे। पटवारी संघ अपनी विभिन्न मांगों को लेकर 1 जून से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने वाले थे, लेकिन 31 मई को राज्य सरकार की ओर से पटवारियों को चर्चा का आश्वासन देकर फिलहाल हड्ताल को स्थगित करा दिया है। 

पटवारी संघ के पदाधिकारी प्रकाश माली ने बताया कि संघ दो साल से मुख्यमंत्री से मिलने के लिए समय मांग रहा है, लेकिन समय नहीं दिया गया। पटवारी संघ की प्रमुख मांग गे्रड-पे 2200 से बढ़ाकर 2800 किया जाए। पिछले 22 साल से पटवारियों का ग्रेड-पे नहीं बढ़ा है। उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार चुनावी साल में सभी वर्ग के कर्मचारी संगठनों को खुश कर चुकी है, सबसे आखिरी में पटवारियों की सुध ली है। हालांकि संघ का कहना है कि यदि मांग नहीं मानी गई तो अवकाश पर जाएंगे। फिलहाल सीएम से चर्चा का सबको इन्तजार है|