प्रभारी मंत्री ने हिदायत दी -पानी सप्लाई रोकने पर आपराधिक प्रकरण दर्ज  होगा।

मंथन न्यूज़ - प्रभारी मंत्री ने की जल क्रांति प्रतिनिधि मंडल से बिंदुवार चर्चा।
 शिवपुरी - सिंध जल परियोजना द्वारा नगर में निर्वाध रूप से जल आपूर्ति बनाए रखने हेतु जिले के प्रभारी मंत्री ने जिला प्रशासन को कड़े निर्देश दिये उन्होंने जिलाधीश एवं पुलिस अधीक्षक दोनों को निर्देशित करते हुए कहा कि जल वितरण कंपनी यदि शहर को जल प्रदाय को रोकती है तो तत्काल प्रभाव से आपराधिक प्रकरण दर्ज करें साथ ही पत्रकार वार्ता के समय निर्देशित किया कि जिले की शांति समिति की बैठक बुलाकर इस विषय पर उठाए जा रहे कदमों की जानकारी आम जनता को दें !

         भारतीय जनता पार्टी के स्थानीय नेताओं द्वारा प्रभारी मंत्री के संज्ञान में विषय की गंभीरता लाए जाने पर उन्होंने जल क्रांति के प्रतिनिधि मंडल को बुलाकर स्थानीय रेस्ट हाउस पर लगभग 1 घंटे संबंधित विन्दुओं पर वार्तालाप किया.  प्रभारी मंत्री ने आंदोलनरत नागरिकों को भरोसा दिलाया कि मध्यप्रदेश सरकार में आर्थिक गड़बड़ी करने वालों के विरुद्ध बडे पैमाने पर लगातार कार्रवाई की जा रही है यदि शिवपुरी में भी इस परियोजना के अंतर्गत भ्रष्टाचार का कोई प्रकरण आप  संज्ञान में लाते हैं तो प्रभावी जांच कराकर दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी . जल क्रांति के सदस्यों से बैठक के पूर्व में भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य एवं पेनलिस्ट धैर्यवर्धन शर्मा,प्रदेशकार्यसमिति सदस्य सुरेंद्र शर्मा, पूर्व विधायक वीरेंद्र रघुवंशी,माखन लाल राठौर, लोकपाल लोधी, जिला महामंत्री ओम प्रकाश शर्मा, डॉक्टर अरविंद बेड़र, जंडेल सिंह गुर्जर, देवेंद्रश्रीवास्तव, डॉ राकेश राठोर, हरिशंकर दुबे भाजपा नेताओं के साथ आंदोलन और जल संकट के बारे में फीडबैक लिया। सभी भाजपा नेताओं ने एक स्वर में कहा कि कांग्रेस शासित नगरपालिका एवं दोशियान की नूराकश्ती से शिवपुरी की जनता पेयजल के पानी को परेशान हो रही है.

प्रभारी मंत्री श्री रुस्तम सिंह  ने पूर्ण  संवेदनशीलता दर्शाते हुए आंदोलनकारियो की एक- एक मांग को ध्यान से सुनकर अवगत कराया की राज्य शासन नागरिकों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए दोनों हाथों से बजट उपलब्ध करा रही है इसी तारतम्य में भोपाल में मुख्यमंत्री जी के साथ स्थानीय मंत्री श्रीमंत यशोधरा राजे सिंधिया एवं मैंने संबंधित अधिकारियों के साथ उच्च स्तरीय बैठक कर  यथाआवश्यकतानुसार राशि का आवंटन कराया  जिसकी टेंडर प्रक्रिया भी  प्रारंभ हो गई है. प्रभारी मंत्री ने श्रीमंत यशोधरा राजे जी की भी भूरि भूरि प्रशंसा करते हुए कहा की आपकी जनप्रतिनिधि एवं स्थानीय मंत्री पूरी शिद्दत से सिंध के जल को नलों में पहुंचाने के लिए प्रतिबद्ध है।भारतीय जनता पार्टी सरकार हर हाल में शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराए जाने के लिए संकल्पबद्ध है ।                 

    चर्चा के दौरान भाजपा  नेताओं ने जल क्रांति के प्रतिनिधि मंडल से आग्रह किया कि ऐसी तपिश में आप खुले में टेंट लगा कर जल सत्याग्रह पर बैठे हैं इससे हम सबका मन व्यथित है हम और आप दोनों पक्ष अपने अपने स्तर पर पेयजल की पर्याप्त उपलब्धता हेतु प्रयासरत हैं. आपको भी सरकार की ईमानदार मंशा को भांपकर धरने को विराम देना चाहिए बैठक के उपरांत प्रभारी मंत्री द्वारा जिलाधीश महोदया एवं पुलिस अधीक्षक को दिए स्पष्ट निर्देशों से जल क्रांति के सदस्य एवं नागरिक संतुष्ट नजर आए और उन्होंने सार्थक चर्चा के लिए प्रभारी मंत्री का धन्यवाद ज्ञापित किया।