मध्‍यप्रदेश में समय पर होंगे चुनाव : मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त ने किया साफ

भोपाल। एक राष्ट्र एक चुनाव और मध्यप्रदेश सहित चार राज्यों के चुनाव लोकसभा के साथ कराने की चर्चाओं पर मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओपी रावत ने पूर्ण विराम लगा दिया

मध्यप्रदेश की चुनावी तैयारियों के मद्देनजर दो दिवसीय दौरे के बाद रावत ने साफ किया कि मध्यप्रदेश में चुनाव तय समय पर होंगे। हमारा (चुनाव आयोग की फुल बेंच) यहां आना इस बात का प्रमाण है। एक साथ चुनाव कराना संविधान और कानून में बदलाव किए बगैर संभव नहीं हैं। उधर, आयोग मध्यप्रदेश की चुनावी तैयारियों से पूरी तरह संतुष्ट दिखा। साथ ही संकेत दिए कि चुनाव की तारीखें त्योहारों को मद्देनजर रखते हुए ही तय होंगी।
दो दिवसीय समीक्षा बैठक के बाद मीडिया से चर्चा में मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओपी रावत ने हर एक सवाल का बेबाकी से जवाब दिया। उन्होंने बताया कि मध्यप्रदेश की तैयारियां काफी बेहतर हैं। अधिकांश काम हो चुके हैं और जो कुछ रह गए हैं वे भी जल्द पूरे हो जाएंगे।

मतदाता सूची को लेकर बार-बार उठ रहे सवाल पर उन्होंने साफ किया कि फर्जी मतदाताओं के नाम सूची में नहीं हैं। डुप्लीकेट वोटर के नाम रहते हैं, उनका घर-घर सर्वे कर सत्यापन किया जाता है। मतदाता सूची 27 सितंबर को प्रकाशित होगी।

इस संबंध में हर एक शिकायत का जवाब दिया जाएगा। एक साथ विधानसभा और लोकसभा चुनाव कराए जाने की चर्चाओं के बीच रावत ने साफ कहा कि हमारा यहां आना इस बात का प्रमाण हैं कि चुनाव अपने निर्धारित समय पर होंगे। जनसंपर्क मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा से जुड़े पेड न्यूज के मामले में आयोग के सुप्रीम कोर्ट जाने के सवाल को उन्होंने टालते हुए कहा कि मामला न्यायालय में है, इसलिए इस पर कुछ भी कहना ठीक नहीं होगा।

आयोग का सर्वर नहीं हुआ हैक

रावत ने एक सवाल के जवाब में कहा कि चुनाव आयोग का सर्वर हैक नहीं हुआ है। फोटोयुक्त मतदाता सूची आयोग ही देता है। इसका ही उपयोग किया गया है। दरअसल, भाजपा के पदाधिकारियों ने मंगलवार को आरोप लगाया था कि कांग्रेस ने आयोग का सर्वर हैक करके फोटोयुक्त मतदाता सूची हासिल की और इसके आधार पर सूची में फर्जीवाड़े के आरोप लगाए जा रहे हैं।

आरएसएस से जुड़ी जानकारी पर संज्ञान व एक्शन लेगा आयोग

सीपीआई के पदाधिकारी शैलेंद्र शैली ने चुनाव आयोग से मिलकर आरएसएस की शाखाओं में जाने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों को चुनाव ड्यूटी से दूर रखने की मांग उठाई थी। इस संबंध में हुए सवाल पर मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने कहा कि आयोग इस पर संज्ञान व एक्शन लेगा। इसी तरह राजगढ़ पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद द्वारा मुख्यमंत्री की जनआशीर्वाद यात्रा की फोटो सोशल मीडिया पर टैग करने के मुद्दे पर कहा कि शिकायत होगी तो कार्यवाही भी होगी