MP : 2 लाख 37 हजार अध्यापकों को शिक्षा विभाग में नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू

भोपाल। प्रदेश के अध्यापकों को नए कैडर में लाने का टाइम टेबल घोषित कर दिया गया है। इस संबंध में लोक शिक्षण संचालनालय (डीपीआई) की आयुक्त जयश्री कियावत ने जिला कलेक्टरों, नगर निगम आयुक्तों, शिक्षा विभाग के संयुक्त निदेशक, जिला शिक्षा अधिकारी को लिखित आदेश जारी कर दिए हैं। इसके लिए 30 सितंबर अंतिम तिथि घोषित की गई है। इस तरह 2 लाख 37 हजार अध्यापकों को नियुक्त करने के लिए कवायद शुरू हो गई।

सोमवार तक संबंधित अध्यापकों को अपनी सेवा पुस्तिका अपडेट करना है और 31 अगस्त तक संकुल प्राचार्य से दस्तावेज सत्यापन कराना है। 1 सितंबर से जिला शिक्षा अधिकारी सत्यापन सूचियों का स्थानीय निकायों से अनुमोदन कराएंगे। 30 सितंबर तक नियुक्ति आदेश जारी कर दिए जाएंगे। ज्ञात हो कि काफी समय से अध्यापक संवर्ग संविलियन का मामला चल रहा था, लेकिन शासन मूल पदनाम के स्थान पर राज्य स्कूल शिक्षा सेवा संवर्ग में कैडर बनाकर उसमें नियुक्ति कर रहा है। उधर, अध्यापक संगठन नए कैडर में नियुक्ति देने का विरोध कर रहे हैं। उनकी मांग है कि अध्यापक संवर्ग को मूल पदनाम देकर मूल शिक्षा विभाग में संविलियन किया जाए। राजधानी के संकुल केंद्रों पर सोमवार को अध्यापक संगठन विकल्प पत्र के विरोध में होली जलाएंगे। जिले के 32 केंद्रों पर अध्यापक संगठन विरोध करेगा।

तीन स्तर पर जारी होंगे नियुक्ति आदेश

इसमें नियुक्ति आदेश तीन स्तर पर जारी किए जाएंगे। जिला स्तर पर जिलाशिक्षा अधिकारी (डीईओ), सम्भागीय स्तर पर संयुक्त संचालक और राज्य स्तर पर आयुक्त आदेश जारी करेंगे। डीईओ सहायक अध्यापक से प्राथमिक शिक्षक, जेडी अध्यापक से माध्यमिक शिक्षक और आयुक्त वरिष्ठ अध्यापक से उच्च माध्यमिक शिक्षक कैडर में नियुक्ति प्रक्रिया करेंगे। सेवा पुस्तिका का अपडेशन, दस्तावेजों का सत्यापन संकुल स्तर पर होगा।

डीईओ को दस्तावेजों को अपलोड करना है

जिलाशिक्षा अधिकारी को अध्यापकों के दस्तावेजों का सत्यापन कर उन्हें अपलोड करना होगा। वहीं, अध्यापकों को भी विभाग में नियुक्ति के लिए दिए गए निर्देशों का पालन करने के लिए कहा गया है। अध्यापकों को नियुक्ति पत्र, प्रमोशन, शिक्षा, व्यावसायिक योग्यता, जाति प्रमाण पत्र के साथ सभी जरूरी दस्तावेज शिक्षा विभाग के पोर्टल पर ऑनलाइन करना होगा।

मूल विभाग में संविलियन की मांग

सेवा शर्तों का उल्लेख किए बिना विकल्प पत्र का अध्यापक वर्ग विरोध करेंगे। अध्यापक संवर्ग मूल पदनाम देकर मूल शिक्षा विभाग में संविलियन की मांग करेंगे - उपेन्द्र कौशल, प्रदेश संयोजक, शासकीय अध्यापक संगठन

30 सितंबर तक प्रक्रिया पूरी कर लेंगे

प्रदेश के सरकारी अध्यापकों को नए कैडर में लाने का टाइम टेबल घोषित कर दिया गया है। 30 सितंबर तक नियुक्ति प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी - धर्मेन्द्र शर्मा, डीईओ, भोपाल संभाग