भाजपा कार्यकारिणी बैठक में पेश हुआ विजन 2022, विपक्ष पर करारा हमला

नई दिल्ली। दिल्ली में हो रही भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक का आज दूसरा और अंतिम दिन है। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को राजनीतिक प्रस्ताव पेश किया। प्रस्ताव में पीएम मोदी के विजन 2022 की प्रशंसा की गई।

साथ ही प्रस्ताव में न्यू इंडिया की बात की गई इसके अलावा इसमें कहा गया कि 2022 तक देश मे न कोई बेघर होगा, न आतंकवाद होगा, न जातिवाद होगा। बैठक के अंतिम दिन रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का समापन भाषण होगा।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बैठक के बारे में जानकारी दी। उन्होंने हा 'भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में राजनीतिक प्रस्ताव रखा जिसको कार्यसमिति ने पास किया। इस प्रस्ताव में विश्वास जताया गया है कि न्यू इंडिया का सपना पूरा होकर ही रहेगा।

राजनीतिक प्रस्ताव में बताया है कि किस प्रकार आज देश में एक इनोवेशन का कल्चर शुरू हुआ है। खुद की तरक्की करते हुए लोग देश की तरक्की में सहभागी हो रहें है।'
जावड़ेकर ने विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि विपक्ष के पास न कोई नेता है, न कोई नीति है और न ही कोई रणनीति है, इसीलिए विपक्ष हताश है और नकारात्मकता की राजनीति कर रहा है।
कांग्रेस 'ब्रेकिंग इंडिया' में लगी: शाह

राष्ट्रीय कार्यकारिणी के उद्घाटन भाषण में ही पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने 2014 से भी बड़ी जीत का भरोसा देते हुए कहा कि विपक्ष केवल भ्रम और झूठ फैलाकर अपना अस्तित्व बचाना चाहता है। मगर, मोदी सरकार ने जिस तरह हर वर्ग के लिए काम किया है और हर क्षेत्र में देश का सिर उंचा किया है उसके बाद जनता भाजपा के साथ है।
शाह के नेतृत्व में ही अगला चुनाव

पिछले वर्षों में एक के बाद एक जीत दिला रहे अमित शाह के ही नेतृत्व में भी अगला चुनाव होगा। इस औपचारिकता को पूरी करने के लिए कार्यकारिणी में जनवरी 2019 में तय संगठन चुनाव टालने का निर्णय लिया गया।
वैसे भी पहले चार राज्यों के चुनाव और फिर लोकसभा चुनाव को देखते हुए यह संभव नहीं है। जनवरी में शाह का तीन साल का कार्यकाल खत्म हो रहा है। पार्टी संविधान के अनुसार कोई भी तीन तीन साल के दो कार्यकाल तक अध्यक्ष रह सकता है।