सवर्णों का प्रदर्शन भोपाल पहुंचा, बैरसिया में लगा बैनर | 

भोपाल। एससी एसटी एक्ट और जातिगत आधार पर आरक्षण के खिलाफ मध्यप्रदेश के ग्रामीण इलाकों से शुरू हुआ विरोध प्रदर्शन पिछले 3 दिनों से शहरी इलाकों में दिखाई दे रहा था। अब मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल तक आ पहुंचा है। यहां बैरसिया में बैनर लगाया गया है कि यह गांव सामान्य वर्ग का है, कृपया वोट ना मांगें। 

ग्राम कढैया कलां तहसील बैरसिया जिला भोपाल में यह बैनर लगाया गया है। इस पर लिखा है कि यह सामान्य वर्ग का गांव है, कृपया राजनीतिक पार्टियां वोट मांग कर हमें शर्मिंदा न करें ....हम अपना वोट नोटा को देंगे...। बता दें कि इस तरह के बैनर मध्यप्रदेश के कई गावों में लगे हुए हैं। कुछ घरों में दरवाजे पर इसी तरह का नोट चिपका दिया गया है। 

नोटा को वोट को लेकर सोशल मीडिया पर काफी बहस चल रही है। भाजपा नेताओं के हाथ पांव फूले हुए हैं। वो नोटा को अनुपयोगी बताने की कोशिश कर रहे हैं जबकि सवर्ण समाज और सामान्य वर्ग के लोग नोटा पर ही अडिग हैं। चौंकाने वाली बात यह है कि इस आंदोलन का कोई नेता नहीं है और विरोध प्रदर्शन करने वाले किसी को भी अपना नेता मानने तैयार नहीं हैं।