राफेल को लेकर लालू ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, बोले- जहजवा ही चुराकर खाने लगे..गजबे बा

दिल्ली
राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष और चारा घोटाला के कई मामलों में सजाकाट रहे लालू प्रसाद सोमवार को राफेल सौदे में कथित घपले को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा.  लालू ने ट्वीट कर अपने अंदाज में लिखा, "जहजवा ही चुराकर खाने लग गए, वो भी लड़ाकू.  गजबे बा. " फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद का साक्षात्कार दुनिया के कई टीवी चैनलों पर प्रसारित होने के बाद राफेल सौदे को लेकर सरकार और विपक्ष दोनों की तरफ से प्रतिदिन आरोप-प्रत्यारोप जारी है. भ्रष्टाचार के मामले में सजायाफ्ता लालू भी अब राफेल के मुद्दे पर सरकार को घेरने वालों में शामिल हो गए हैं. लालू ने इससे पहले भी ट्वीट कर राफेल मामले को लेकर सरकार पर निशाना साधा था.  

 
लालू ने शुक्रवार को अपने ट्वीट में लिखा था, "मित्रों, राफेल सौदे के घालमेल और तालमेल की सही जानकारी 125 करोड़ देशवासियों को मिलनी चाहिए कि नहीं? अगर पूंजीपति मिलनसार प्रधानमंत्री गुनाहगार व भागीदार नहीं है और ईमानदार चौकीदार है तो सच बताने में डर काहे का?"  सजा काट रहे लालू अपनी बीमारी के इलाज के क्रम में इन दिनों रांची के एक अस्पताल में भर्ती हैं.  
वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अमेठी दौरे के दौरान राफेल सौदे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक बार फिर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि देश के ‘चौकीदार’ (मोदी) ने गरीब से पैसा छीनकर उसे उद्योगपति अनिल अंबानी को सौंप दिया. गांधी ने इसके साथ ही प्रधानमंत्री से कहा कि वह राफेल लड़ाकू विमान सौदे से जुड़े कई मुद्दों का जवाब दें और यह भी स्पष्ट करें कि क्यों फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने कथित रूप से उन्हें ‘चोर’ कहा.
राहुल गांधी ने जायस में एक जनसभा में राफेल सौदे का उल्लेख करते हुए आरोप लगाया कि देश के ‘चौकीदार’ ने हिन्दुस्तान के जवानों और शहीदों की जेब से 20 हजार करोड़ रूपये निकालकर अनिल अंबानी की जेब में डाला है. उन्होंने कहा कि एचएएल से कांट्रैक्ट छीनकर अनिल अंबानी को क्यों दे दिया गया? भारत की जनता राफेल सौदे की कीमत जानना चाहती है.' कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ''प्रधानमंत्री मोदी इस बारे में सफाई नहीं दे सकते हैं क्योंकि उनमें सफाई देने का दम नहीं है. नरेंद्र मोदी भाषण देते हैं लेकिन जवाब नहीं दे पाते हैं.''