ELECTION 2018: 4 राज्यों में आचार संहिताः इन तारीखों में हो सकते हैं विधानसभा चुनाव

भोपाल। देश के चार राज्यों में दो माह बाद होने वाले चुनाव की तारीखों के ऐलान करने का वक्त अब नजदीक आ गया है। 15 दिनों बाद ही चुनाव की आचार संहिता लग जाएगी। इससे पहले चुनाव प्रचार का शंखनाद करने के लिए देश की दो बड़ी पार्टियों के दिग्गज मध्यप्रदेश में अपना शक्तिप्रदर्शन करने आने वाले हैं। 17 सितंबर को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भोपाल में रोड शो करने वाले हैं। वहीं भाजपा 25 सितंबर को कार्यकर्ता महाकुंभ का आयोजन करने जा रही है। दोनों ही पार्टियों के लिए यह आयोजन प्रतिष्ठा का विषय माना जा रहा है।

मध्यप्रदेश में नवंबर में चार राज्यों के चुनाव होने जा रहे हैं। इनमें मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान और मिजोरम शामिल हैं। इस बार यह भी हो सकता है कि तेलंगाना राज्य के भी चुनाव साथ-साथ कराने का विचार किया जा रहा है। हाल ही में भोपाल आए चुनाव आयुक्त के दौरे पर यह बात साफ हो गई थी कि लोकसभा चुनाव और विधानसभा चुनाव एक साथ नहीं होंगे। इसके साथ ही चुनाव आयोग ने सभी पार्टियों के नेताओं से बात करते चुनाव की तारीखों पर विचार किया था। सूत्रों के मुताबिक मध्यप्रदेश में 26 नवंबर से 30 नवंबर के बीच चुनाव कराए जा सकते हैं। इनका मानना है कि त्योहारों को ध्यान में रखते हुए यह सबसे अनुकूल समय है।


पिछले माह ही भोपाल दौरे पर आए मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने सभी दलों से मुलाकात कर चुनाव के संबंध में चर्चा की थी। माना जा रहा है कि पार्टियां भी चाहती हैं कि वोटिंग से पहले 7 नवंबर की दीपावली और 21 नवंबर की ईद दोनों ही संपन्न हो जाए। जिससे ज्यादा से ज्यादा मतदान करने के लिए लोग आ सके।

पिछले चुनावों में ऐसा था कार्यक्रम
-पिछले चुनावों में आयोग ने 4 अक्टूबर 2013 को चुनाव की घोषणा की थी। इसके बाद 25 नवंबर 2013 को वोटिंग हुई थी।

यह है संभावना
-मध्यप्रदेश में एक चरण और छत्तीसगढ़ में दो चरणों में चुनाव कराए जा सकते हैं। सूत्रों का अनुमान है कि पिछले चुनावों की तरह ही इन्हीं तिथियों के आसपास आचार संहिता लग सकती है। जबकि वोटिंग 26 से 30 नवंबर के बीच कराई जा सकती है। इससे पहले अक्टूबर अंत तक चुनाव की अधिसूचना जारी हो सकती है।


 


मध्यप्रदेश में है 230 सीटें


-इस साल के अंत में मिजोरम, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश के चुनाव होने हैं।


-40 सीटों वाली मिजोरम में अक्टूबर-नवंबर में चुनाव होंगे।


-इसके बाद राजस्थान की 200 सीटों वाली विधानसभा के चुनाव होंगे। यहां बीजेपी की सरकार है।


-इसके बाद छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश के चुनाव होंगे। इन दोनों ही राज्यों में भी बीजेपी की सरकार है। मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार का कार्यकाल जनवरी 2019 में खत्म हो रहा है। जबकि 90 सीटों वाली छत्तीसगढ़ की रमन सरकार का भी कार्यकाल साथ-साथ खत्म होगा।


-मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान अपने चौथे कार्यकाल के लिए मैदान में उतरेंगे। यहां 230 सीटें हैं।


-मध्यप्रदेश में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष 17 सितम्बर को आ रहे हैं, वे इस दिन कांग्रेस के प्रचार अभियान की शुरुआत कर देंगे।


-इसके बाद 25 सितंबर को जंबूरी मैदान में कार्यकर्ताओं के महाकुंभ से भाजपा अध्यक्ष अमित शाह चुनाव प्रचार शुरू कर देंगे।