SC में कांग्रेस पर भड़का चुनाव आयोग, बार-बार हमें निर्देश न दिलवाएं

मंथन न्यूज दिल्ली भारतीय निर्वाचन आयोग ने एक मामले की सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट में कांग्रेस पार्टी को अपने निशाने पर लिया है. आयोग ने कहा है कि कांग्रेस उसे बार-बार इस तरह से कोर्ट में न घसीटे.


चुनाव आयोग ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा देकर कहा है कि कांग्रेस बार-बार सुप्रीम कोर्ट में आकर आयोग की कार्यपद्धति में रुकावट न डाले. आयोग ने आगे कहा है कि कांग्रेस को एक खास अंदाज में चुनाव कराने के दिशानिर्देश जारी न करवाए.


दरअसल, कांग्रेस की मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ की इकाइयों के प्रमुखों ने सुप्रीम कोर्ट में अपील कर कहा था कि चुनाव आयोग को फर्जी वोटरों का नाम वोटर्स लिस्ट से हटाया जाना चाहिए. यह अपील कमलनाथ, सचिन पायलट और भूपेश बघेल ने की थी. इन्होंने कहा था कि चुनाव आयोग इन राज्यों में निष्पक्ष चुनाव कराना सुनिश्चित करे.


सुप्रीम कोर्ट की बेंच इस मामले की सुनवाई कर रही है. सुप्रीम कोर्ट ने इस अपील को स्वीकार कर चुनाव आयोग को नोटिस जारी किया था.


मंगलवार को इस मामले की सुनवाई के दौरान आयोग ने कहा है कि वह अपना काम कर रहा है. उसके काम में ऐसी याचिकाओं के जरिए दखल देना उचित नहीं है. आयोग ने कहा कि याचिकाकर्ता चाहते हैं कि हमें निर्देश दिए जाएं कि निर्वाचन प्रक्रिया किस तरह से हो.


आयोग ने अपने जवाब में कहा है कि चुनाव आयोग कानूनी प्रावधान के तहत ही चुनाव कराता है. किसी याचिका के जरिए  चुनाव आयोग को यह निर्देश  देने की मांग नहीं की जा सकती कि किस तरीके से चुनाव कराए जाएं.