मध्यप्रदेश समेत पांच राज्यों के चुनावों मे पहली बार महिलाएं भी होंगी तैनात



मध्य प्रदेश समेत पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर घोषणा कभी भी हो सकती है। माना जा रहा है कि चुनाव आयोग ने इसको लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं और जल्द चुनाव के तारीखों की घोषणा की जा सकती है। इसके बाद राज्यों में आचार संहिता लागू हो जाएगी।

दरअसल, मध्य प्रदेश में 2013 में हुए विधानसभा चुनाव को लेकर तारीखों की घोषणा 4 अक्टूबर को की गई थी। इसी आधार पर अनुमान लगाया जा रहा है कि जल्द आचार संहिता लागू हो सकती है। सूत्रों के मुताबिक, मध्य प्रदेश के साथ-साथ राजस्थान, छत्तीसगढ़, मिजोरम और तेलंगाना विधानसभा चुनावों की भी घोषणा की जा सकती है। 

हालांकि, माना ये भी जा रहा है कि तेलंगाना में 9 अक्टूबर को अंतिम मतदाता सूची प्रकाशित होगी, इसलिए उसके बाद ही चुनावों के तारीखों की घोषणा की जाएगी। 

इसके अलावा ऐसा भी माना जा रहा है कि 12 अक्टूबर के बाद चुनाव की घोषणा की जाएगी, क्योंकि मध्य प्रदेश के मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओपी रावत मनीला दौरे पर जा रहे हैं। जब वह वहां से वापस लौटेंगे, उसके बाद ही चुनाव के तारीखों की घोषणा होगी। 

मध्य प्रदेश चुनाव में महिलाओं की भी होगी तैनाती 

इस बार मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में सतना जिले में बूथों पर महिला कर्मचारियों की भी तैनाती की जाएगी। दरअसल, यह फैसला पुरुष मतदान कर्मियों की घट रही संख्या को देखते हुए किया गया है। 

आयोग ने यह स्पष्ट कर दिया है कि महिला कर्मचारियों की तैनाती शहरी मतदान केंद्रों और उनके कार्यस्थल के पास के मतदान केंद्रों में की जाएगी। सूदूर क्षेत्रों में इनको तैनात नहीं किया जाएगा।