मध्य प्रदेश विधान सभा चुनाव से पहले प्रदेशवासियों को मिली बड़ी सौगात, भोपाल और इंदौर में जल्द ही दौड़ेगी मेट्रो

बैठक के मुताबिक इसे 4 साल में पूरा कर लिया जाएगा. साथ ही इंदौर में भी मेट्रो लाइन की मंजूरी दे दी गई है. यहां मेट्रो के निर्माण में 7500 करोड़ रुपये का खर्चा आएगा.

नई दिल्ली:  


मध्य प्रदेश विधान सभा चुनाव से पहले केंद्र सरकार ने प्रदेश वासियों को बड़ी सौगात दी है. केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में राज्य में मेट्रो परियोजना की मंजूरी दी गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में जारी बैठक में भोपाल और इंदौर में मेट्रो परियोजना को मंजूरी मिली है. इस परियोजना की लागत 6941 करोड़ बताई जा रही है. साथ ही परियोजना पूरे करने को लेकर डेडलाइन भी निर्धारित कर दी गई है.


बैठक के मुताबिक इसे 4 साल में पूरा कर लिया जाएगा. साथ ही इंदौर में भी मेट्रो लाइन की मंजूरी दे दी गई है. यहां मेट्रो के निर्माण में 7500 करोड़ रुपये का खर्चा आएगा. इसे भी चार साल के अंदर पूरा करना है.


कैबिनेट के इस फैसले पर राज्य के मुख्यमंत्री ने खुशी जाहिर की है. उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में कैबिनेट ने इंदौर और भोपाल के लिए मेट्रो रेल को स्वीकृति दी. समस्त प्रदेशवासियों की ओर से प्रधानमंत्री व मंत्रिमंडल का हृदय से आभार व्यक्त करता हूं.


अगले ट्वीट में उन्होंने कहा, 'अपने सहयोग और मार्गदर्शन द्वारा भोपाल एवं इंदौर के लिए मेट्रो रेल को संभव बनाने के लिए केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली व केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी का समस्त प्रदेशवासियों की ओर से सहृदय आभार.'


वहीं एक अन्य ट्वीट में राज्य के मुख्यमंत्री ने कहा, 'मध्यप्रदेश के लिए आज ऐतिहासिक दिन है. आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल द्वारा भोपाल एवं इंदौर के लिए मेट्रो रेल को स्वीकृति प्रदान की गई. परिवहन व यातायात के नए युग में प्रवेश करने के लिए भोपाल और इंदौर के नागरिकों को अनेकों शुभकामनाएं.'