मध्य प्रदेश में अमित शाह के निशाने पर ज्योतिरादित्य सिंधिया और कांतिलाल भूरिया



भोपाल -मध्य प्रदेश विधानसभा सम्मेलन की तैयारी के लिए आ रहे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह एक तीर से दो निशाने लगा रहे हैं। संभागीय सम्मेलन के साथ-साथ उन्होंने 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव की भी तैयारी शुरू कर दी है। इस दौरान सबसे पहले वे मप्र में कांग्रेस के दिग्गज नेता कांतिलाल भूरिया के लोकसभा क्षेत्र में जनजाति सम्मेलन करेंगे। 

छह अक्टूबर को आयोजित इस सम्मेलन में झााबुआ, आलीराजपुर के आदिवासियों को बुलाया जा रहा है। इसके बाद नौ अक्टूबर को सिंधिया का गढ़ भेदने के लिए शिवपुरी में कार्यकर्ता सम्मेलन करेंगे। शाह के दौरे को लेकर भाजपा ने तैयारियां शुरू कर दी हैं।


जावरा में किसान सम्मेलन
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के छह अक्टूबर को इंदौर-उज्जैन से शुरू होने वाले दौरे के पहले दिन दोनों स्थानों पर कार्यकर्ता सम्मेलन तो होंगे ही, साथ में जावरा में पार्टी ने एक किसान सम्मेलन भी आयोजित किया है। इस दिन शाह के किसी किसान के घर भोजन की भी योजना बनाई जा रही है। पार्टी द्वारा जावरा को चुनने की मुख्य वजह मंदसौर में सवा साल पहले हुआ गोलीकांड है। 

जून 2017 को किसान आंदोलन में पुलिस की गोली से छह किसान मारे गए थे। इसके बाद से इस इलाके में किसान भाजपा से खफा थे। किसान आंदोलन की बरसी पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी रतलाम आए थे। राहुल ने यहीं एलान किया था कि प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनी तो दस दिन के अंदर किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा। इन्हीं सब कारणों के चलते शाह जावरा में किसानों को संबोधित करेंगे।

शिवपुरी में घेरेंगे सिंधिया को
भाजपा नौ अक्टूबर को शिवपुरी में चंबल संभाग का कार्यकर्ता सम्मेलन करेगी। शिवपुरी को चुनने की वजह कांग्रेस चुनाव प्रचार अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया हैं। सिंधिया को घेरने के लिए भाजपा ने उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह की ड्यूटी लगा रखी है। सिंह गुना शिवपुरी का दौरा कर कार्यकर्ताओं की मीटिंग ले चुके हैं।

ग्वालियर में युवा सम्मेलन
भाजपा ने ग्वालियर को युवा सम्मेलन के लिए चुना है। एससी-एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ग्वालियर अंचल में दो अप्रैल को भारत बंद के दौरान भारी उपद्रव हुआ था। इसमें आठ लोगों की जान गई थी। संसद में एक्ट के संशोधन के बाद सामान्य वर्ग के युवाओं ने भी ग्वालियर अंचल में भाजपा के कई नेताओं को काले झंडे दिखाकर विरोध जताया था।

कांग्रेस के गढ़ में शिकस्त देंगे
पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का प्रदेश दौरा रणनीतिक दृष्टि से तैयार किया गया है। इस बार हम कांग्रेस के गढ़ रहे क्षेत्रों में भी उन्हें कड़ी शिकस्त देंगे और दो सौ पार का लक्ष्य प्राप्त करेंगे।
- डॉ. दीपक विजयवर्गीय, मुख्य प्रवक्ता भाजपा मप्र