*(शिवपुरी से फिर आंगे निकला दतिया, शिवपुरी नहीं बनी नगर निगम सोशल मीडिया पर छाया मुद्दा नरोत्तम मार गए बाजी*)

लगभग ढाई लाख की आबादी वाले शिवपुरी शहर को नगर निगम का दर्जा नहीं मिल पाया! जबकि इससे छोटा जिला दतिया को नगर निगम बना दिया गया! शिवपुरी को नगर निगम बनाए जाने के लिए कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने सीएम को प्रस्ताव भेजा था लेकिन बाजी नरोत्तम मार गए! शिवपुरी नगर निगम नहीं बन पाया!  इसे लेकर जनप्रतिनिधियों के खिलाफ मंगलवार को सोशल मीडिया पर लंबी बहस छिड़ी रही!

सोमवार की रात तक चली भोपाल में मैराथन बैठक में दतिया जैसे छोटे जिले को नगर निगम का दर्जा मिल गया! जबकि शिवपुरी का नंबर नहीं लग पाया! शिवपुरी के नगर निगम प्रस्ताव ठंडे बस्ते में चला गया! मंगलवार की सुबह जब यह खबर लोगों को लगी तो सोशल मीडिया पर शिवपुरी शहर के बुद्धिजीवियों में बहस छिड़ गई! स्थिति यह बनी कि कोई इसे जनप्रतिनिधियों की नाकामी बता रहा था! तो कोई तो कोई अपने कमेंट में शिवपुरी को नगर पंचायत बनाने की बात लिख रहा था! शिवपुरी अगर यदि नगर निगम बन जाता तो विकास कार्यों के लिए आने वाला बजट तो बढ़ता ही ! साथ ही शहर को सुंदर बनाए जाने के लिए पर्याप्त स्टाफ मिल जाता!