शाम 5 बजे बॉर्डर सील कर देगी पुलिस, बाहरी व्यक्तियों पर रहेगी ये पाबंदी

ग्वालियर। विधानसभा चुनाव के लिए चुनाव प्रचार सोमवार की शाम 5 बजे से थम जाएगा। प्रचार थमने के साथ ही जिला पुलिस नगर की सीमाओं की नाकेबंदी कर दी जाएगी। बाहरी व्यक्तियों को बगैर किसी जायज कारण शहर में प्रवेश की इजाजत नहीं होगी। रात से ही पुलिस ने होटल, लॉज, धर्मशालाओं को चेकिंग शुरु कर दी है।
बाहरी व्यक्तियों की पहचान कर उन्हें जिले की सीमा से बाहर कर दिया जाएगा। पुलिस रात में उन लोगों के घरों पर दस्तक देगी, जिन पर चुनाव में माहौल बिगड़ने की आशंका है। जिला प्रशासन की मदद से इन लोगों को चिन्हित कर पहले से सूची तैयार कर ली है।

एसपी नवनीत भसीन ने बताया कि चुनाव प्रचार के थमने के बाद कोई बाहरी व्यक्ति जिले की सीमा में नहीं रुक सकता है। और नहीं कोई बाहरी व्यक्ति बगैर किसी जायज कारण के जिले की सीमा में प्रवेश कर सकता है। बाहरी व्यक्तियों के शहर में प्रवेश से रोकने के लिए जिले की सीमाओं को सोमवार की शाम 5 बजे से सील कर दिया जाएगा। बॉर्डर सील करने के लिए अर्द्धसैनिक बलों की हथियारों के साथ तैनाती की जाएगी। जिले की सीमा में प्रवेश करने से पहले से उन्हें जायज कारण बताना होगा।

उम्मीदवारों को पहले से ही समझाइश दे दी गई है कि अगर कोई जिले की बाहर की सीमा का व्यक्ति चुनाव प्रचार करने के लिए आया तो उसे वापस भेज दे।
रात से होटल धर्मशालाओं की चेकिंग शुरू की

पुलिस ने आधी रात से शहर के होटल, लॉज, धर्मशालाओं की चेकिंग शुरू कर दी है। इनमें रूके लोगों से शहर में आने का कारण पूछा जा रहा है। शहर में रूकने का जायज कारण नहीं होने पर उन्हें समझाइश दी जा रही है कि वह सोमवार को 5 बजे से पहले जिले की सीमा से बाहर चले जाए। बाहरी व्यक्तियों के आईडी चेक किए जा रहे हैं।
चिन्हित व्यक्तियों के घरों पर रात में पुलिस ने दस्तक दी

एसपी नवनीत भसीन ने बताया कि रविवार की रात को जिन लोगों पर चुनाव में गड़बड़ी फैलाने की आशंका हैं, उनके घरों पर पुलिस दस्तक देगी। और पता लगाएगी कि वह कहां हैं, और क्या कर रहे हैं। इन लोगों की सूची पहले से तैयार हैं। इस चेकिंग के लिए 174 पेट्रोलिंग वाहन तैयार किए गए हैं। प्रत्येक पेट्रोलिंग वाहन एक एसआई रैंक का अधिकारी व 2 जवान हथियारों के साथ रहेंगे।
अंग्रेजी शराब की दुकान, कलारी सील कर दी जाएगी

सोमवार की शाम 5 बजे चुनाव प्रचार थमने के साथ ही आबकारी विभाग की टीम अंग्रेजी शराब की दुकान, देसी कलारी व बार का रिकॉर्ड चेक कर सील कर देगी। अब लाइसेंसधारी शराब की बिक्री मतदान के बाद ही कर सकेंगें