इन कर्मचारियों का तीन गुना बढ़ा दिया भत्ता! अब मिलेगी ज्यादा सैलरी

अगर कोई भी अधिकारी किसी भी गैंगमैन, टैकमैन और गेट मैन पर काम का दवाब बनाता है और कर्मचारी को लगता है कि इसमें जान खतरे में है तो कर्मचारी काम को करने के लिए बाध्य नहीं होंगे।

रेलवे अपने कर्मचारियों के लिए कुछ न कुछ करता रहता है। अब अपने कर्मचारियों की सैलरी बढ़ाने की तैयारी कर रहा है। ऑल इंडिया रेलवेमेन्स फेडरेशन की ओर से देश भर के ट्रैकमेंटेनर्स की एक संगोष्ठी का अयोजन 21 दिसंबर को करनैल सिंह रेलवे स्टेशन में किया गया। इस मौके पर कर्मचारियों की मांगों पर कई बड़ी घोषणाएं की गईं। ऐसे में जल्द ही गैंगमैन, टैकमैन व गेट गेटमैन जैसे रेल कर्मियों को मिलने वाले भत्ते में वृद्धि होगी वहीं उनकी सुरक्षा के लिए भी कई कदम उठाए जाएंगे। ऑल इंडिया रेलवेमेन्स फेडरेशन के महासचिव ने बताया कि देश भर में काम करते हुए कई जगह गेटमैन और टैकमैन पर हमले हुए हैं। यहां तक कि कर्मचारियों को अपनी जान भी गंवानी पड़ी थी।

इस मुद्दे को रेलवे के अधिकारियों के सामने उठाया गया। अब रेलवे की तरफ से ड्यूटी पर तैनाती के दौरान रिस्क ऑन ड्यूटी अलाउंस को 1,000 रुपए से बढ़ाकर 4,100 रुपए करने की मांग को मान लिया गया है। इसके अलावा अगर कोई भी अधिकारी किसी भी गैंगमैन, टैकमैन और गेट मैन पर काम का दवाब बनाता है और कर्मचारी को लगता है कि इसमें जान खतरे में है तो कर्मचारी काम को करने के लिए बाध्य नहीं होंगे। वह चाहें तो मना कर सकते हैं।

आपको बता दें कि हाल ही में दिल्ली सरकार ने भी अपने 15,000 कर्मचारियों की सैलरी बढ़ाने की घोषणा की थी। इसके अलावा कर्मचारियों को 36 महीने का एरियर देने की भी घोषणा की थी। बढ़ी हुई सैलरी 1 जनवरी 2016 से लागू होगी। केंद्र सरकार के कर्मचारियों की मांग है कि उनकी सैलरी को सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों से ज्यादा बढ़ाया जाए। उनकी मांग है कि उनकी न्यूनतम सैलरी को 18,000 रुपए महीने से बढ़ाकर 26,000 रुपए महीने कर दिया जाए। इसके अलावा फिटमेंट फेक्टर को भी 2.57 गुना से बढ़ाकर 3.68 गुना किया जाए। माना जा रहा है कि सरकार आगामी 2019 लोकसभा चुनावों को देखते हुए कुछ बड़े ऐलान कर सकती है।