शिवपुरी शहर में चांद का टुकड़ा हुआ रोशन

शिवपुरी शहर में रहने वाली रिया माथुर और दिव्या भगवानी ने
चांद का टुकड़ा प्लेटफॉर्म के तहत एक कार्यक्रम आयोजित किया जिसमें,जो बाहरी खूबसूरती है वो कहा प्यार है, जो उम्र के निशानों के साथ और गहरा हो जाए हां वही है प्यार यह बात  दिव्या भगवानी ने कही , ए  दिसंबर रुक जा जरा कुछ किससे कुछ यादें  अपने साथ लेता जा, यह बात रिया माथुर ने कही
।अगर जाना है तो शोक से जा (तरुण शर्मा) , जागती आँखो से एक ख्वाब ढूँढता है, मैं हर पल तुझे अपने पास ढूंढता हूं यह आशीष शर्मा ने कहा। , बहुत प्यार है कहकर रोने लगा यह बात प्रफुल शर्मा ने कही , वक़्त की मुलाकात   को प्रियंका राजपूत ने बयान किया। , आज बैठे-2 ये ख्याल आया ऐसा मयंक राठौर ने कहा  , पढ़ ले किताबी आंखे पढ़ सके जो ए जालिम वैशाली पाल  ने कहा, काफी कुछ कहना है (यश खरे) , एक पल में जो टूट जाए( शुभम शर्मा) , छुपा लिया पूरी दुनिया को ,यह अपूर्वा श्रीवास्तव ने कहा।