अभी आप मंत्री हो, पॉवर का करो इस्तेमाल : शिवराज

भोपाल. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मतगणना के पहले बुधवार को बुलाई इस कार्यकाल की आखिरी कैबिनेट बैठक में मंत्रियों से कहा, जब तक चुनाव का परिणाम नहीं आ जाता तब तक आप मंत्री हो। अपने पॉवर का इस्तेमाल करो। कलेक्टरों से बात करो और किसानों की समस्याओं का सुलझाओ। धान और खाद पर ध्यान दो। किसानों को कहीं पर समस्या न हो।
बैठक में आचार संहिता पर बात आई तो शिवराज ने कहा कि धान खरीदी और खाद वितरण में किसानों को परेशानी का सामना न करना पड़े, इसका ध्यान रखा जाए। आचार संहिता लगी है, इसलिए यह न सोचें कि कलेक्टर से बात नहीं कर सकते। शिवराज ने मंत्रियों से प्रदेश के हालात भी जाने। खाद्य, सहकारिता और कृषि विभाग के अफसरों को भी किसानों की फसलों पर ध्यान देने के लिए कहा।
- प्याज की कीमतों पर दो ध्यान
शिवराज ने कहा कि प्याज की कीमतों को देखा जाए। बेहद कम भाव मिलने की जानकारी मिल रही है। इस पर अफसरों ने तर्क रखा कि ऐसा नहीं है। खराब प्याज एक-दो रुपए किलो बिक रहा है। अच्छी गुणवत्ता वाले प्याज की औसत कीमत छह से आठ रुपए किलो है। यह स्थिति महाराष्ट्र से भी बेहतर है। आला अफसरों ने सीएम को बताया कि महाराष्ट्र में 7.40 रुपए प्रति किलो कीमत है, जबकि मध्यप्रदेश में औसत 6.72 रुपए से 8.00 रुपए की कीमत है। सीएम ने प्याज को लेकर आवश्यक कदम उठाने के लिए कहा। इस पर भावांतर का जिक्र भी, लेकिन आचार संहिता के कारण इस पर कोई कदम नहीं उठाया जा सकता।
- खाद की स्थिति यूं जानी
सीएम ने धान खरीदी और खाद की स्थिति पूछी। इस पर आला अफसरों ने डाटा रखकर तर्क दिया कि बेहतर स्थिति है। अभी तक 5.21 लाख टन खाद बांटी जा चुकी है और दो लाख टन भंडारण में उपलब्ध है, जबकि पिछले साल महज 4.80 लाख टन ही खाद बांटी गई थी। इसके अलावा रबी और खरीफ की फसलों की स्थिति भी देखी गई। धान खरीदी कम होने का मुद्दा भी उठा। इस पर भी स्थिति संभालने के लिए कहा गया।


- इन फैसलों का अनुसमर्थन
राज्य स्कूल शिक्षा सेवा शर्ते एवं भर्ती नियम 2018 के तहत महिलाओं के आरक्षण
आयु सीमा निर्धारण और दिव्यांगजन व संविदा कर्मचारियों के आरक्षण नियमों में छूट का प्रावधान
मंत्री रामपाल सिंह के क्षेत्र में 9 लाख रुपए के अधिक भुगतान को मंजूरी
उप लोकायुक्त सुशील कुमार पालो की नियुक्ति
अध्यापक संवर्ग संविलयन
पॉवर ट्रांसमिशन कंपनी के 1700 करोड़ के कर्ज की अनुमति
ग्रामीण क्षेत्र के लिए जन स्वास्थ्य संवर्धन बोर्ड के गठन
सरदार सरोवर परियोजना में हाईकोर्ट के आदेश का पालन
माल एवं सेवा कर अधिनियम अधिसूचना
मंदिरों में पुजारियों-सेवादारों को सीएम जन कल्याण योजना में शामिल करने सहित अन्य प्रस्तावों का कैबिनेट ने अनुसमर्थन किया।


- एंटी चेम्बर में जाने सीटों के हाल
सीएम शिवराज ने मंत्रियों से उनके क्षेत्रों के बारे में स्थिति पूछी। सीएम चुनिंदा मंत्रियों को अपने एंटी चेम्बर में ले गए। वहां चुनिंदा सीटों व चुनाव के विभिन्न फैक्टर पर बात की। इसमें उनके इलाकों में सपाक्स के असर, अजा-अजजा वोटिंग के ट्रेड, कमजोर सीटों की हालत सहित अन्य मुद्दों पर बात की। यह भी जाना कि कहां कौन सा फैक्टर नुकसान पहुंचा रहा है और कहां किन फैक्टर से फायदा हो रहा है।