Breaking News

MP में कोरोना की दूसरी लहर का खतरा:इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, रतलाम और विदिशा में कल से रात 10 से सुबह 6 बजे का नाइट कर्फ्यू

  • प्रदेश में 8वीं तक के सकूल भी 31 दिसंबर तक रहेंगे बंद
  • कोरोना को लेकर हुई समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लिया निर्णय
  • मध्यप्रदेश में लॉकडाउन नहीं लगेगा, लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते सरकार ने 5 शहरों में नाइट कर्फ्यू और पाबंंदियां लागू करने का फैसला किया है। इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, रतलाम और विदिशा में शनिवार यानी 21 नवंबर से हर दिन रात 10 से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा। राज्य में 8वीं तक के स्कूल 31 दिसंबर तक बंद रखने का फैसला लिया गया है।गुरुवार को राजधानी भोपाल में कोरोना के 425 मामले सामने आने और इंदौर में 313 मामलों के साथ कोरोना की तीसरी लहर आने के बाद मुख्यमंत्री ने कोरोना पर बैठक बुलाई थी, जिसमें यह फैसला लिया गया था।

    भास्कर ने पहले ही बता दिया था कि नाइट कर्फ्यू पर हो रहा विचार 
    भास्कर ने कोरोना पर होने वाली समीक्षा बैठक से पहले ही यह खबर दे दी थी कि भोपाल, इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर, रतलाम, रीवा और सतना जैसे शहरों में नाइट कर्फ्यू लगाया जा सकता है। इसी के साथ यह भी बताया था कि सरकार कोरोना पर नई गाइडलाइन जारी कर सकती है। पूरी खबर यहां पढ़ें: भास्कर एक्सक्लूसिव

    नाइट कर्फ्यू पर फैसला कलेक्टर लेंगे
    जिन शहरों में कोरोना का 5% से ज्यादा पॉजिटिविटी रेट है, वहां रात 10 से सुबह 6 बजे तक का कर्फ्यू रहेगा। 5% पॉजिटिविटी रेट यानी कोरोना के हर 100 टेस्ट में 5 टेस्ट पॉजिटिव पाए जाएं। ऐसे जिलों में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक के बाद वहां के कलेक्टर नाइट कर्फ्यू लगाने के बारे में आखिरी फैसला लेंगे।

    बैठक में सीएम ने ये निर्देश दिए

    • 9वीं से 12वीं और कॉलेज के छात्र-छात्राएं विभाग द्वारा जारी दिश-निर्देशों के मुताबिक स्कूल जा सकेंगे।
    • थिएटरों के लिए पहले की गाइडलाइन जारी रहेगी। यानी 50% सिटिंग कैपेसिटी की ही इजाजत होगी।
    • कल से हर जिले में क्राइसिस ग्रुप की रेगुलर बैठक होगी और सिफारिशें सरकार को भेजी जाएंगी।
    • शादियों में ज्यादा से ज्यादा कितने लोग इकट्ठा हो सकते हैं, इस पर फैसला बाद में होगा।
    • रात 10 से 6 बजे तक औद्योगिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगगे।
    • औद्योगिक मजदूरों के आवागमन और ट्रकों के परिवहन पर रोक नहीं रहेगी।
    • पूरे प्रदेश में मास्क लगाने पर सख्ती बढ़ाई जाएगी। इसे लागू करने की जिम्मेदार जिला प्रशासन की होगी।
    • सीएम खुद हर एक दिन छोड़कर कोरोना के मामलों का रिव्यू करेंगे।

    लॉकडाउन से जुड़ा पुराना वीडियो वायरल 
    मंत्रालय में जब मुख्यमंत्री बैठक कर रहे थे, तभी उनका एक पुराना वीडियो वायरल हुआ। इसमें वे दो शहरों में लॉकडाउन की बात कर रहे हैं। ये वीडियो छह महीने पुराना है। वीडियो सामने आने के बाद यह माना जाने लगा कि मुख्यमंत्री ने लॉकडाउन की घोषणा कर दी है। बाद में सरकार ने स्थिति साफ की कि यह घोषणा पुरानी थी।

    हरियाणा की स्थिति के बाद यू-टर्न
    सरकार कई दिनों से स्कूल-कॉलेज के बारे में सोच रही थी। स्कूल शिक्षा विभाग ने एक प्रस्ताव भी भेजा था। इसमें कहा गया था कि 20 नवंबर के बाद स्कूल खोले जा सकते हैं, लेकिन मुख्यमंत्री ने अब साफ कर दिया है कि इन्हें अभी बंद ही रखा जाएगा। दरअसल, हरियाणा में स्कूल खोले जा चुके हैं और कई जिलों में अब तक 119 बच्चे संक्रमित हो चुके हैं।

    राज्य के सात जिलों में कोरोना की स्थिति

    जिला नए केस कुल केस एक्टिव केस
    इंदौर 313 36310 2163
    भोपाल 425 28360 1867
    ग्वालियर 92 13618 742
    जबलपुर 60 13533 661
    रतलाम 64 2961 321
    रीवा 45 2939 321
    सतना 22 2596 114

Check Also

अ.भा.वि.प . द्वारा आयोजित किया गया नगर अभ्यास वर्ग

🔊 Listen to this *अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद सिवनी नगर इकाई का नगर अभ्यास वर्ग …